किसी भी प्रकार की एलर्जी ,शीतपित्त, रक्तविकार, शरीर की बढ़ी हुयी गर्मी नाशक योग-

By | December 5, 2016
Loading...

किसी भी प्रकार की एलर्जी ,शीतपित्त, रक्तविकार, शरीर की बढ़ी हुयी गर्मी नाशक योग-


आजकल जन सामान्य किसी न किसी प्रकार की एलर्जी से ग्रसित है | निम्नलिखित प्रयोग हर तरह की एलर्जी को समूल नष्ट करने की शक्ति रखता है।एलर्जी व शीतपित्त इत्यादि रोगों के लिए शास्त्रोक्त हरिद्रा खण्ड अत्यंत उपयोगी सिद्ध हुआ है।लेकिन निम्नलिखित नवीन प्रयोग उससे भी बहेतर है।

%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%b8%e0%a5%80-%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%8f%e0%a4%b2%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%9c%e0%a5%80-%e0%a4%b6

loading...

loading...



योग- पवित्र जल-1 लीटर

पिसी हुई मिश्री – 400 ग्राम

हल्दी का महीन चूर्ण – 300 ग्राम

शुद्ध स्वर्ण गैरिक – 200 ग्राम

मुलहठी का महीन चूर्ण – 100 ग्राम



निर्माण विघि- हल्दी, स्वर्ण गैरिक (सोना गैरु) तथा मुलहठी का चूर्ण आपस में खूब मिला लें । बडें खरल में डालकर वस्त्र से छने जल से घुटाई करें।कुछ दिनों बाद जब मिश्रण विल्कुल सूख जाए तब उसमें पिसी हुयी मिश्री डालकर सुरक्षित रखें।इस दवा का 1 -1 छोटे चम्मच मात्रा प्रतिदिन दिन में तीन बार स्वच्छ जल से 3 बार लेने से किसी भी प्रकार की एलर्जी ,शीतपित्त, रक्तविकार, शरीर की बढ़ी हुयी गर्मी दूर हो जाती है।

Source


loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *