Skip to main content

बवासीर का घरेलू इलाज

बवासीर के लिए घरेलू नुस्खे


बवासीर के लिए घरेलू नुस्खे

बवासीर क्या है 

बवासीर दो प्रकार के होते हैं

1. खूनी बवासीर ।
2. बादी बवासीर ।


1. खूनी बवासीर :-

खूनी बवासीर मैं खून आता है सबसे पहले के खाने में लग जाते हैं फिर धीरे-धीरे टपकने लगते हैं इसमें सिर्फ खुल आती है क्योंकि इसके अंदर मस्त होता है और यह अंदर की तरफ होती है फिर कुछ दिन के बात या पुरानी हो जाने के बाद यह बाहर आने लगता है अगर यह कुछ ही महीनों में हुई है तो यह बाहर आते वक्त टट्टी के साथ ही अंदर चली जाती है अपने आप परंतु जब यह पुरानी हो जाती है तो हाथ से दबाकर अंदर क्या जाता है लेकिन अगर वह आखिरी स्टेज हो जाए तो हाथ से भी दबाने पर नहीं दबता है।


2. बादी बवासीर :-

बवासीर मस्से अंदर होती है। मस्सा अंदर होने की वजह से मैं खाने का रास्ता छोटा पड़ जाता है और जब परहाना करते हैं तो चुनर फट जाती है और उसकी वजह से घाव हो जाता है। बवासीर के आखिरी स्टेज को भगंदर कहते हैं । 


कारण :- 

  • अधिक देर तक खड़े रहना ।
  • भारी वजन उठाना ।
  • कब्ज के कारण ।
  • रेखा ने सही से ना होना ।


 बवासीर को कैसे पहचाने :-

  • दिखाने के साथ खून आना ।
  • पेट बराबर खराब होना ।
  • दर्द जलन खुजली शरीर में बेचैनी होना ।
  • रेखा ने सही से ना होना
  • कब्ज हमेशा बना रहना ।

घरेलू उपाय



सबसे सटीक और अनोखी उपाय है यह :



  • सबसे पहले आप 50 किलो मिर्ची ले ले और उसे गर्म कर ले इतने गर्म करें कि वह राख हो जाए राख होने के बाद उसे 20 ग्राम कत्था सफेद मिलाएं कुश्ता फौलाद 5 ग्राम मिलाएं और सभी को मिलाकर सुबह 2:00 से 3:00 ग्राम उसे मक्खन में डाल खाएगा तो और उसके साथ ही 250 लड़ाई स्प्लिटर दूध पी ले यह 1520 दिनों में आपको बहुत बढ़िया रिजल्ट देगा खूनी बवासीर के लिए है इसमें आपको परहेज भी करना होगा जैसे गूढ़ गोश्त शराब आम अंगूर ना खाएं और अधिक जरूरी बात की कब्ज ना होने चाहिए।


  • बादी बवासीर के घरेलू उपाय : - 
  •  

  • गेंदे का पत्ता 10 ग्राम से 15 ग्राम , काली मिर्च 5 से 7 दाने , कुंजा मिश्री 15 ग्राम , एक गिलास पानी में उसे रगड़ कर छान लें और उसे 5 से 7 दिन रोजाना ले ।

  • गर्म चीज ना खाएं और कब्ज ना होने दें । 

Comments

Popular posts from this blog

घरेलू उपाय से कब्ज को खत्म करें

कब्ज क्या है :-जब पाचन तंत्र की क्रिया में किसी भी मनुष्य या जानवर के  मल सख्त या कड़ा हो जाता हैं उस प्रक्रिया को हम कब्ज कहते हैं । कब्ज के कारण हमारे शरीर में बहुत सारी बीमारियां होती है जैसे खासकर कि हमारे पेट में दर्द होना और यह कारण सिर्फ मल के रूके होने के कारण से होती है । अगर हम अपने पेट को प्रतिदिन साफ रखेंगे तो हम बहुत सारी बीमारियों से बचेंगे इसलिए हमें प्रतिदिन सुबह और शाम दोनों समय में मल को निकालना चाहिए जिससे कि हमारे पेट पूरी तरह से साफ होती है ।किस कारण से कब्ज होती है :-1. भोजन कम करना ।
2. शरीर में पानी की कमी ।
3. कम चलना खाने के बाद ।4. चाय कॉफी धूमधाम अधिक सेवन  करने के कारण से ।5. सही समय पर भोजन ना करना ।
6. सही समय पर मल को ना निकालना ।
7. भोजन को पूरी तरह से चबाकर ना खाने के कारण ।
8. अधिक उपवास करना ।
9. सही समय पर खाना ना खाना ।10. लिवोन पर कुछ बीमारी होने के कारण ।


कब्ज को कैसे पहचाने (लक्षण) :-1. बातें करते वक्त सांसों से बदबू आना ।
2. भूख ना लगना ।
3. नाक से पानी बहना ।
4. सर दर्द या सर में चक्कर आना ।
5. चेहरे पर दाने आना ।
6. सुबह मल सही से ना निकल ना ।7. पेट में…

खांसी के घरेलू उपाय

खांसी जब हम कुछ बोलते हैं या हम सांस लेते हैं उस समय हमारी सास  की गली में जो खरखराहट की आवाज आती है , उस प्रक्रिया को खासी कहते हैं । बोर्डेटेल्ला परट्यूसिया कहलाने वाले जीवाणु के कारण खांसी होती है । जब हम छींकते हैं या बोलते वक्त थूक निकालते हैं उस समय सामने खड़े व्यक्ति को भी या खांसी हो सकती है इस बीमारी के कारण हमारे देश मेंं प्रतिवर्ष एक लाख की आबादी पर 580 बच्चे मारे जाते हैं  । 

खांसी को पहचानने के लक्षण :-
1. छींक आते रहना ।
2. नाक से पानी बहना ।
3. आंख से पानी निकलना ।
4. भूख की कमी होना ।
5. रात में अधिक खांसना ।

खांसी के घरेलू उपाय :-

1. सबसे पहले अदरक का रस और शहद 10 ग्राम से 15 ग्राम बराबर मिलाकर गर्म करके चटाने से खांसी कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है
2. काली मिर्च , मुलहठी 10 से 15 ग्राम भूनकर पीस लें और 30 ग्राम पुराने गुड़ में मिला ले , और उसे गोल गोल बना लें और ताजे पानी के साथ सेवन करें खांसी 10 से 15 दिनों में जड़ से ठीक हो जाएगी ।
3. आंवले के छिलके को सुखाकर चूर्ण बना लें और उसे मिश्री में मिलाकर ताजे पानी से खावे ।
4. तुलसी के पत्ते हर चार-पांच काली मिर्च को चाय में मिला …

sir dard ka ilaj

सिर में दर्द क्यों होती है :-

शरीर में बहुत सारी बीमारियां होती है जिसमें एक बीमारी है सिर दर्द हमारे सिर दर्द में सबसे अधिक तकलीफ देती है कुछ व्यक्तियों को प्रतिदिन सिर दर्द होती है सिर दर्द कोई गंभीर वजह से नहीं होती है अधिकतर या बीमारी हमारे प्रतिदिन के लाइफस्टाइल के कारण से होती है आजकल जिस प्रकार हम अपने कामों में व्यस्त हो जाते हैं उस कारण से हम कभी भी अपने शरीर को शांति पूर्वक नहीं रखते हैं और हमारे दिमाग लगातार तनाव के कारण हमारा सर दर्द अधिक समय के लिए देता है और यह दर्द रोजाना धीरे-धीरे बढ़ने लगता है जिससे हमें बहुत सारी दिक्कतें होने लगती है


सिर में दर्द क्यों होती है

अधिक समय तक काम करते रहना ।नींद पूरी तरह से ना आना ।रोजाना शराब सिगरेट पीने के कारण से ।तनाव और मसल्स में दर्द होने के कारण से ।सिर में कभी चोट लगा हो उसके कारण से ।
सिर दर्द से छुटकारा पाने का उपाय

रोजाना व्यायाम करें ।रोजाना प्रतिदिन 7 से 8 घंटे नींद ले ।तनाव अधिक ना ले ।शराब सिगरेट और मदिरा कभी ना ।खाने में हमेशा हरी सब्जियां खाएं ।सिर दर्द के लिए दवा का उपयोग बहुत ही कम करें ।अधिक सर दर्द पर तुलसी की पत्ती को ख…