Ayurvedic Gharelu upay

Pages

Breaking News

दमा(अस्थमा)क्यों होता है

 
दमा क्यों होता है

 

 

दमा(अस्थमा)क्यों होता है :-

वर्तमान काल में जिस प्रकार पूरी दुनिया विकासशील की ओर बढ़ रहा है । और जिस प्रकार आजकल टेक्निक्स हमारे  प्रति दिन के कामों को आसान बना रहे बहुत सारे ऐसे टेक्निक्स है जिससे प्रदूषण निकलता हैं जैसे मोटर बाइक्स कार्स और बहुत सारे जिससे हमारे शरीर में बहुत बीमारियां होती है । उनमें से एक बीमारी दमा अस्थमा है जब सांस के नली में ऑक्सीजन पूरी तरह से अंदर नहीं जा पाता है और जिस से हमारे शरीर को ऑक्सीजन की कमी होती है उस समय अस्थमा का अटैक आता है ।


दमा(अस्थमा) के लक्षण

:-

  • सांस लेने में हमेशा तकलीफ होता है ।
  • सीने में दर्द की शिकायत ।
  • खांसी में कफ का उत्पन्न होना ।
  • कब हमेशा बना रहना ।
  • सांस लेते वक्त घर घर की आवाज आते रहना ।

दमा(अस्थमा)किस कारण से होती है

:-

  • दमाद के होने का बहुत से कारण हो सकता है खासकर के मौसम पदार्थ और दवाइयों की एलर्जी से होती है।
  • वायु प्रदूषण।
  • धूल के कणों से एलर्जी होना।
  • मौसम में बदलाव के कारण या ठंडी हवा का असर पढ़ना ।
  • सिगरेट के धोखे से दमा होने की संभावना बढ़ जाती है ।
  • परफ्यूम जैसे खुशबू के एलर्जी के कारण से दमा हो सकती है।

दमा(अस्थमा)के लिए घरेलू उपाय

:-


  • सूखा आंवला और मुलेठी को अलग-अलग पीसकर बारीक चूर्ण से बनाए और फिर उन्हें मिलाकर रख लें और उसे रोजाना खाएं ।
  • गर्म पानी और गर्म दूध पिलाने से कब पतला हो जाता है ।
  • कुछ बदामा को पीसकर अकबर कुछ देर तक उबालें और उसे खाएं दमा का दौरा कम हो जाएगी ।
  • अंगूर के रस को गर्म करके पिलाएं ।

Share:

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Recent Posts