Skip to main content

सांप के काटने पर क्या करें

 
सांप के काटने पर क्या करें


सांप क्षेत्र में पाए जाते हैं।  खासतौर पर गांव और जंगलों में सांप बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं और कुछ होती झरेली भी होते हैं। परंतु सबसे अधिक घटनाएं गांव वालों के साथ होता हैं । इसलिए आज हम कुछ घरेलू नुस्खे के बारे में बात करेंगे परंतु जब भी सांप काटे  सबसे पहले चिकित्सक के पास जाएं यदि चिकित्सक सही समय पर उपलब्ध ना हो तो आप ही निम्न उपचार का उपयोग कर सकते हैं


सांप के काटने का लक्षण कैसे पहचाने :-

  • सांप के काटने की जगह पर काला पड़ जाएगा।
  • हाथ पैर में झनझनाहट से होने लगेगा।
  • चक्कर आना, पसीना आना और दम घुटने लगेगा।
  • आंखें बंद होने लगेगा।

सांप के काटने पर आप यह उपचार कर सकते हैं:-


  • जिस व्यक्ति को सांप ने काटा है उसे बेहोश ना होने दें
  • काटने के जगह से थोड़ी दूर पर किसी कपड़े या रस्सी से बांध दे। जिससे खून के साथ मिलकर जहर दिल तक न पहुंच सके
  • सांप के काटने के जगह पर किसी तेज  नश्तर से छीन ले जिससे खून के साथ-साथ जहर बाहर आने लगे।
  • अगर जहर अंदर जाने लगे तब आप प्याज का रस सरसों का तेल पिला दें, और यह प्रक्रिया 5 मिनट में बार-बार दोहराएं जिससे उल्टी हो और उसके साथ जहर निकल जाए।

Comments

Popular posts from this blog

घरेलू उपाय से कब्ज को खत्म करें

कब्ज क्या है :-जब पाचन तंत्र की क्रिया में किसी भी मनुष्य या जानवर के  मल सख्त या कड़ा हो जाता हैं उस प्रक्रिया को हम कब्ज कहते हैं । कब्ज के कारण हमारे शरीर में बहुत सारी बीमारियां होती है जैसे खासकर कि हमारे पेट में दर्द होना और यह कारण सिर्फ मल के रूके होने के कारण से होती है । अगर हम अपने पेट को प्रतिदिन साफ रखेंगे तो हम बहुत सारी बीमारियों से बचेंगे इसलिए हमें प्रतिदिन सुबह और शाम दोनों समय में मल को निकालना चाहिए जिससे कि हमारे पेट पूरी तरह से साफ होती है ।किस कारण से कब्ज होती है :-1. भोजन कम करना ।
2. शरीर में पानी की कमी ।
3. कम चलना खाने के बाद ।4. चाय कॉफी धूमधाम अधिक सेवन  करने के कारण से ।5. सही समय पर भोजन ना करना ।
6. सही समय पर मल को ना निकालना ।
7. भोजन को पूरी तरह से चबाकर ना खाने के कारण ।
8. अधिक उपवास करना ।
9. सही समय पर खाना ना खाना ।10. लिवोन पर कुछ बीमारी होने के कारण ।


कब्ज को कैसे पहचाने (लक्षण) :-1. बातें करते वक्त सांसों से बदबू आना ।
2. भूख ना लगना ।
3. नाक से पानी बहना ।
4. सर दर्द या सर में चक्कर आना ।
5. चेहरे पर दाने आना ।
6. सुबह मल सही से ना निकल ना ।7. पेट में…

खांसी के घरेलू उपाय

खांसी जब हम कुछ बोलते हैं या हम सांस लेते हैं उस समय हमारी सास  की गली में जो खरखराहट की आवाज आती है , उस प्रक्रिया को खासी कहते हैं । बोर्डेटेल्ला परट्यूसिया कहलाने वाले जीवाणु के कारण खांसी होती है । जब हम छींकते हैं या बोलते वक्त थूक निकालते हैं उस समय सामने खड़े व्यक्ति को भी या खांसी हो सकती है इस बीमारी के कारण हमारे देश मेंं प्रतिवर्ष एक लाख की आबादी पर 580 बच्चे मारे जाते हैं  । 

खांसी को पहचानने के लक्षण :-
1. छींक आते रहना ।
2. नाक से पानी बहना ।
3. आंख से पानी निकलना ।
4. भूख की कमी होना ।
5. रात में अधिक खांसना ।

खांसी के घरेलू उपाय :-

1. सबसे पहले अदरक का रस और शहद 10 ग्राम से 15 ग्राम बराबर मिलाकर गर्म करके चटाने से खांसी कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है
2. काली मिर्च , मुलहठी 10 से 15 ग्राम भूनकर पीस लें और 30 ग्राम पुराने गुड़ में मिला ले , और उसे गोल गोल बना लें और ताजे पानी के साथ सेवन करें खांसी 10 से 15 दिनों में जड़ से ठीक हो जाएगी ।
3. आंवले के छिलके को सुखाकर चूर्ण बना लें और उसे मिश्री में मिलाकर ताजे पानी से खावे ।
4. तुलसी के पत्ते हर चार-पांच काली मिर्च को चाय में मिला …

sir dard ka ilaj

सिर में दर्द क्यों होती है :-

शरीर में बहुत सारी बीमारियां होती है जिसमें एक बीमारी है सिर दर्द हमारे सिर दर्द में सबसे अधिक तकलीफ देती है कुछ व्यक्तियों को प्रतिदिन सिर दर्द होती है सिर दर्द कोई गंभीर वजह से नहीं होती है अधिकतर या बीमारी हमारे प्रतिदिन के लाइफस्टाइल के कारण से होती है आजकल जिस प्रकार हम अपने कामों में व्यस्त हो जाते हैं उस कारण से हम कभी भी अपने शरीर को शांति पूर्वक नहीं रखते हैं और हमारे दिमाग लगातार तनाव के कारण हमारा सर दर्द अधिक समय के लिए देता है और यह दर्द रोजाना धीरे-धीरे बढ़ने लगता है जिससे हमें बहुत सारी दिक्कतें होने लगती है


सिर में दर्द क्यों होती है

अधिक समय तक काम करते रहना ।नींद पूरी तरह से ना आना ।रोजाना शराब सिगरेट पीने के कारण से ।तनाव और मसल्स में दर्द होने के कारण से ।सिर में कभी चोट लगा हो उसके कारण से ।
सिर दर्द से छुटकारा पाने का उपाय

रोजाना व्यायाम करें ।रोजाना प्रतिदिन 7 से 8 घंटे नींद ले ।तनाव अधिक ना ले ।शराब सिगरेट और मदिरा कभी ना ।खाने में हमेशा हरी सब्जियां खाएं ।सिर दर्द के लिए दवा का उपयोग बहुत ही कम करें ।अधिक सर दर्द पर तुलसी की पत्ती को ख…